Home गाजियाबाद रोडवेज एआरएम ने खोला मोर्चा पकड़ेंगे पटल पर बैठे...

रोडवेज एआरएम ने खोला मोर्चा पकड़ेंगे पटल पर बैठे कर्मचारियों का भ्रष्टाचार

गाजियाबाद । 

रोहिताश
रोडवेज में संविदा चालकों-परिचालकों की ड्यूटी लगाने, मलाईदार रूट व अच्छी बस आवंटित करने के अलावा डब्ल्यूटी आदि के केस का निस्तारण कराने में कर्मचारियों द्वारा रिश्वत लेने का खुला खेल जगजाहिर है। अब विभाग में फैले भ्रष्टाचार के खिलाफ रोडवेज एआरएम परिषद् में खुलकर सामने आ गया है। 
रोडवेज में लंबे समय से संविदा पर चालक और परिचालक भर्ती किए जा रहे हैं। वर्तमान में कौशाम्बी डिपो रीजन गाजियाबाद जिले में 700 से ज्यादा संविदा चालक व परिचालक कार्यरत हैं। अधिकतर स्थायी परिचालक व चालक प्रमोशन पाकर बाबू बन गए हैं या अक्षमता के चलते रूट से हटकर ऑफिस से अटैच हो गए हैं। कार्यालयों में तैनात बाबुओं पर चालकों, परिचालकों को ड्यूटी पर लेने, मलाईदार रूटों पर भेजने और विदाउट टिकट (डब्ल्यूटी) मामलों का निपटारा करानेे आदि के लिए रिश्वत लेेने के आरोप लगते रहे हैं।रोडवेज़ एआरएम नरेेंद्र कुमार गंगवार ने बताया कि संगठन की बैठक में निर्णय लिया गया है कि डिपो में यदि कोई कर्मचारी रिश्वत लेते या देते पकड़ा जाता है तो उसके खिलाफ एफआईआर व निलंबन की कार्रवाई की जाएगी। इस आशय का कार्यालय ज्ञापन जारी कर कर्मचारियों को चेता दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments